You are currently viewing मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध | Advantage And Disadvantage Of Mobile
मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध

मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध | Advantage And Disadvantage Of Mobile

मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध– मोबाइल हमारे जीवन एक हिस्सा बन गया है और बिना मोबाइल हमारा जीवन बिलकुल अधूरा सा है। लेकिन क्या आपको पता है की मोबाइल फ़ोन हमारे जीवन के लिए शाप है या वरदान, क्या मोबाइल से हमारे जीवन पर दुष्प्रभाव पड़ता है, क्या मोबाइल हमारे भविष्य के लिए हानिकारक है या फायदेमंद। इन सभी सवालो का जबाब आज हम इस आर्टिकल मे आपको बताएँगे। आज हम आपको बताएँगे की मोबाइल हमारे लिए शाप है या वरदान। यु तो किसी भी चीज में कुछ न कुछ कमी और फायदे होते है लेकिन वे कमी या फायदे हमारे जीवन का क्या प्रभाव डालते है ये महत्वपूर्ण होता है। इसी प्रकार मोबाइल के भी कुछ न कुछ फायदे और नुकशान होते है, उन्ही फायदे और नुकशान के बारे में आज हम आपको बताएँगे। अगर आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ते है तो मैं इस बात की गॅरंटी लेता हु, की आपको किसी भी प्रकार का कोई डाउट नहीं रहेगा।

\"मोबाइल
मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध

मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध | mobile shap ya vardan essay in hindi

दुनिया भर में मोबाइल फोन या स्मार्टफोन की लोकप्रियता बढ़ रही है। यह आज के समय में संचार का सबसे लोकप्रिय माध्यम है। पहले अपने शहर के बगल में किसी से बात करना बहुत महंगा था लेकिन आज यह सभी के लिए बहुत सस्ता और किफायती हो गया है।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि मोबाइल फोन वर्तमान युग का एक जबरदस्त उपकरण है लेकिन यह एक ही समय में विभिन्न क्षेत्रों में हमें नुकसान पहुंचा रहा है। स्मार्टफोन में इंटरनेट की सुविधा उन्हें और अधिक इंटरैक्टिव बनाती है। स्मार्टफोन के बढ़ते इस्तेमाल के साथ लोग इनकी बुरी तरह से आदी होते जा रहे हैं।

संचार मनुष्य को पृथ्वी पर किसी भी अन्य प्रजाति से अलग बनाता है। हम अपने विचारों और विचारों को किसी भी अन्य जीव की तुलना में अधिक कुशलता से साझा कर सकते हैं। आज, दूसरों के साथ संवाद करने के कई तरीके हैं।

मोबाइल फोन या स्मार्टफोन आज संचार का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला साधन है। इसने हमारे जीवन को पहले से कहीं ज्यादा आसान बना दिया है। आज, हम दुनिया भर में सेकंडों में आसानी से बात कर सकते हैं या वीडियो कॉल कर सकते हैं। एक मोबाइल फोन विकसित किया गया था जिसका एकमात्र उद्देश्य लोगों को घर से दूर होने पर कनेक्ट करना था।

मोबाइल की लत

सेल फोन की लत को कभी-कभी समस्याग्रस्त मोबाइल फोन के उपयोग के रूप में जाना जाता है, एक व्यवहारिक लत है।

25 साल की उम्र तक इंसान का दिमाग पूरी तरह से विकसित नहीं होता है। यही कारण है कि किशोरों में स्मार्टफोन के आदी होने की संभावना अधिक होती है। सोशल मीडिया युवाओं के लिए बहुत अधिक व्यसनी है क्योंकि यह समाज में एक चलन बन गया है।

स्मार्टफोन का आदी व्यक्ति वास्तविक जीवन में लोगों से जुड़ने की तुलना में ऑनलाइन कनेक्ट होने में अधिक समय व्यतीत करता है और तकिए पर या नीचे स्मार्टफोन लेकर सोता है। कभी-कभी वह मानता है कि सेल फोन बज रहा है या कंपन नहीं हुआ है। यह अन्य व्यसनों की तरह एक खतरनाक प्रकार का व्यसन है।

लाभ:

जोड़े रखना : (मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध)

मोबाइल फोन का प्राथमिक कार्य हमें अपने प्रियजनों और दुनिया से भी जोड़ना है।


मनोरंजन

मोबाइल फोन मनोरंजन से भरपूर है। हम खेल खेल सकते हैं, अपनी पसंदीदा फिल्में देख सकते हैं और चलते-फिरते अपने पसंदीदा गाने सुन सकते हैं।


पढ़ाई में मदद करना

इंटरनेट की सुविधा ने डिवाइस \”मोबाइल फोन\” को सबसे स्मार्ट बना दिया है जो हमें हमारे सभी संदेहों के उत्तर प्रदान कर सकता है। यह हमें हमारे स्कूल के कार्यों को पूरा करने में मदद करता है और शैक्षिक अवधारणाओं के भ्रम से छुटकारा पाने में भी हमारी मदद करता है।


मोबाइल बैंकिंग

मोबाइल हमारे बैंक में जाए बिना लेन-देन करने में हमारी मदद करता है और हम अपने पसंदीदा शॉपिंग मॉल में नकद पैसे के बिना खरीदारी कर सकते हैं।

हानि:

लत लगना

सेल फोन हमें इसका अधिक से अधिक उपयोग करने का आदी बना रहा है। एक सर्वेक्षण के अनुसार एक व्यक्ति स्मार्टफोन का उपयोग करके दिन में 5 घंटे बिता रहा है।


समय की बर्बादी

जैसा कि हम जानते हैं कि आजकल फोन स्मार्ट हो गए हैं क्योंकि लोगों को यह भी पता नहीं होता है कि उनका ध्यान मोबाइल फोन के इस्तेमाल की ओर कैसे खींचा जा रहा है। इसलिए वे अपना कीमती समय बर्बाद करते हुए घंटों-घंटों इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।


मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य

मोबाइल फोन हमारे मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य को बहुत बुरी तरह प्रभावित कर रहे हैं। जो लोग अपने स्मार्टफोन का अधिक उपयोग करते हैं, उनके अवसाद और चिंता के पैमाने पर उच्च स्कोर करने की संभावना अधिक होती है। मोबाइल फोन हमारे नर्वस सिस्टम को प्रभावित करते हैं। वे ज्यादातर किशोरों में सिरदर्द, कम ध्यान, गुस्सा, नींद विकार और अवसाद का कारण बन सकते हैं।

निष्कर्ष:

अंत में, मोबाइल फोन हमारे जीवन को आसान बनाने का एक उपकरण है लेकिन आज हम इसके आदी हो रहे हैं। अगर हम सही समय पर नींद से नहीं उठे तो यह खतरनाक साबित हो सकता है। मोबाइल फोन का इस्तेमाल कब और क्यों करना है, इसकी जानकारी हमें होनी चाहिए। इसे केवल अपने आत्म-विकास के लिए उपयोग करें न कि समय बर्बाद करने के लिए।

FAQ\’S

1). मोबाइल वरदान या शाप

मोबाइल हमारे लिए वरदान भी बन सकता है और शाप भी, ये सब आपके ऊपर निर्भर करता है। मोबाइल को अपनी कमजोरी नहीं अपनी ताकत बनानी चाहिए।

2). मोबाइल फ़ोन छात्रों को लाभ या हानि

अगर छात्र चाहे तो मोबाइल उनके लिए एक उत्तम साधन हो सकता है उनकी पढाई के लिए।

3). मोबाइल फ़ोन का बढ़ता प्रचार

आज के इस उग में मोबाइल फ़ोन दिन व् दिन सुर्खियों में रहते है क्योकि अलग अलग कंपनी अपना अपना प्रचार करती रहती है।

आशा करते है की आपको ये मोबाइल शाप या वरदान पर निबंध पसंद आया होगा। अगर आपको किसी भी विषय पर निबंध चाहिए तो हम आपकी सेवा हर समय हाजिर है।

धन्यबाद

ALSO READS:

Essay on My Favorite book in Hindi

My Favourite bird essay in Hindi

10 lines on my mother in Hindi

Pollution essay in hindi 10 lines

Essay on Neem tree in Hindi

Leave a Reply