You are currently viewing मेरा प्रिय जानवर कुत्ता पर निबंध | Essay on dog in Hindi(1000+ words)
essay-on-dog-in-hindi-mera-priya-prani-essay-in-hindi

मेरा प्रिय जानवर कुत्ता पर निबंध | Essay on dog in Hindi(1000+ words)

Essay on dog in Hindi– मित्रो आज मैने मेरा प्रिय जानवर पर निबंध(Mera Priya prani essay in Hindi) लिखा है। ये निबंध बहुत ही सरल भाषा में लिखा गया है। ये निबंध सभी छात्रों के लिए बहुत मददगार साबित होगा। मेरा प्रिय जानवर कुत्ता पर मैने सरल भाषा में निबंध(Mera Priya prani essay in Hindi) लिखा है। मित्रो मैंने मेरे प्रिय जानवर कुत्ता को चुना है और इसी पर ही निबंध लिखा है। कुत्ता एक बफादारी का मिसाल है और कुत्ता अपनी जान पर खेलकर भी अपने मालिक की जान की सुरक्षा करता है। इसलिए मैंने कुत्ता ही अपना प्रिय जानवर चुना है।

Essay on dog in Hindi– हमारी इस दुनिया में लगभग 8.7 मिलियन प्रजाति पायी जाती है। इन प्रजातियों में सब अपने अपने आकर और श्रेणी के आते है। इस सभी प्रजातियों में कुछ खूंखार होते है तो कुछ पालतू और मिलनसार होते है। कुत्ता एक ऐसा जानवर है, जो की बहुत मिलनसार होता है।

\"essay-on-dog-in-hindi-mera-priya-prani-essay-in-hindi\"
essay-on-dog-in-hindi-mera-priya-prani-essay-in-hindi

Short Essay on Dog in Hindi:(Mera Priya prani essay in Hindi)

Mera Priya prani essay in Hindi(300+ words)

कुत्ता एक पालतू प्राणी होता है। कुत्ते के चार पैर होते है। उसके बच्चे को हम पिल्ला कहते है। कुत्ते की पूछ टेढ़ी होती है। कुत्ता मिश्राहारी प्राणी होता है। वह दूध, रोटी, चावल, आदि के साथ साथ मांस भी खाता है।

कुत्ते 30 से 40 हजार साल पहले से ही इंसानो द्वारा घरो में पालतू जानवर के रूप में पाले जाते है। बहुत पहले के समय में कुत्ते से बहुत काम लिया जाता था। कुत्ते ज्यादातर इंसानो के आस-पास रहना पसंद करते है। सभी जानवरो में कुत्ता सबसे बफादार होता है। अमेरिका ऐसा देश है, जहां सबसे ज्यादा पालतू कुत्तो को पाला जाता है। अमेरिका में लगभग 9 करोड़ कुत्तो को पाला जाता है। कुत्ता घर की बहार की रखवाली के लिए सबसे ज्यादा पाला जाता है। कुत्ते को लोग अलग अलग नाम भी देते है और उसी नाम से बहुत प्यार से पुकारते है। कुत्ते सफ़ेद, काले, भूरे, ग्रे, आदि रंग के होते है।

कुत्ते के दो आँख होती है और एक नाक होती है। कुत्ता अपनी नाक की सहायता से ही इंसानो की तुलना में 10 गुना ज्यादा तीव्रता से सूंघ सकता है। कुत्ते के दो कान होते है, जिससे वह धीमी से धीमी आवाज भी सुन सकता है। यह मांसाहारी और शाकाहारी दोनों प्रकार का भोजन बड़ी आसानी से पचा लेता है। कुत्ता तेज दौड़ने में भी माहिर है। बर्फीले स्थानों पर कुत्तो को सामान ढोने के लिए काम में लिया जाता है।

कुत्ता एक मासूम सा प्राणी होता है, जो हर समय अपने मालिक के प्यार के लिए तरसता है। कुत्ता अपना जखम आप सही कर लेता है। कुत्ते को आर्मी में भी इस्तेमाल किया जाता है। सोते समय कुत्ते हमेशा सतर्क रहते है, वह छोटी सी आवाज भी सोते समय सुन सकते है।

Long Essay on Dog in Hindi:(Mera Priya prani essay in Hindi)

Mera Priya prani essay in Hindi(600+ words)

परिचय:

सभी प्रजातियों में से कुत्ता सबसे ज्यादा वफादार, घरेलु, पालतू होता है। कुत्ते को इंसानो का दोस्त भी कहा जाता है क्योकि ये अपने मालिक प्रति बहुत वफादार होते है। इनकी दो प्यारी आँख होती है, जो सब कुछ देख सकती है। इनकी एक नाक होती है, जो इंसानो के मुकाबले में अधिक सूंघती है। कुत्तो को दो कान भी होते है जो काम आवाज को भी बड़ी आराम से सुन सकते है। इनके चार पैर होते है, जो इन्हे बहुत तेज भागने में मदद करते है। कुत्तो के पास नुकीले दांत होते है, जो कठोर चीज को भी चवा सकते है। और इनकी पीठ पर एक पूछ होती है।

कुत्ते दुनिया में हर जगह पाय जाते है। कुत्तो में बहुत सारे गुण होते है। जैसे की वे तेज दौर सकते है, जोर से भौंक सकते है और कई तरह के खतरों को भी महसूस कर सकते है। कुत्तो को सबसे ज्यादा वफादार कहना गलत नहीं होगा।

कुत्तो के लक्ष्ण:

रंग:-

इस दुनिया में कुत्ते अलग अलग रंग के पाय जाते है। अधिकतर कुत्तो का रंग काला और सफ़ेद होता है। कुत्ते काले, सफ़ेद, भूरे, आदि और ग्रे रंग के होते है। सफ़ेद रंग के कुत्ते बहुत प्यारे लगते है।

आकर:-

कुत्तो की प्रजीतियो में कुत्ते अलग अलग प्रजाति में आते है। कुछ कुत्ते छोटे आकर की प्रजाति में आते है, कुछ मध्य आकर की और कुछ बड़ी आकर की प्रजाति में आते है। अधिकतर कुत्ते मध्य आकर की प्रजाति में आते है।

भोजन:-

कुत्ता एक मिश्रहारी होता है मतलब कुत्ता शाकाहारी भी होता है और मांसाहारी भी होता है। कुत्ता अधिकतर रोटी, ब्रेड, दूध, चावल, मांस, आदि खाता है। कुत्ते का भोजन करना उसकी परवरिस पर भी निर्भर करता है।

उप्योगिता:-

अधिकतर कुत्तो को घर की रखवाली के लिए पाला जाता है। कुत्तो को किसी भी उपयोग में लिया जाता सकता है, वो निर्भर करता है सीखने के ऊपर। बर्फीले स्थानों पर कुत्तो को सामन ढोने के लिए काम में लिया जाता है।

कुत्तो का महत्व: (Mera Priya prani essay in Hindi)

कुत्तो को अधिकतर घरवार की रखवाली के लिए पाला जाता है। लेकिन कुत्ते अलग अलग काम भी उपयोग किय जा सकते है। कुछ लोग कुत्तो को अपना मनोरंजन करने के लिए पालते है, तो कुछ लोग अपना अकेलापन, चिंता, तनाव दूर करने के लिए पालते है। कुत्तो को आर्मी में भी इस्तेमाल किया जाता है। कुत्तो की सूंघने की शक्ति अधिक होती है, इसलिए कुछ लोग इसे सूंघने के लिए भी पालते है। कुछ लोगो को कुत्ते पलने का सोक होता है।

10 Lines on Essay on Dog in Hindi (Mera Priya prani essay in Hindi)

कुत्ते सभी जानवरो में से सबसे वफादार होते है।

कुत्ते 30 से 40 हजार साल पहले से ही इंसानो द्वारा घरो में पालतू जानवर के रूप में पाले जाते है।

कुत्ते ज्यादातर इंसानो के आस-पास रहना पसंद करते है।

कुत्ता घर की बहार की रखवाली के लिए सबसे ज्यादा पाला जाता है।

अमेरिका में लगभग 9 करोड़ कुत्तो को पाला जाता है।

कुत्ता दूध, रोटी, चावल, आदि के साथ साथ मांस भी खाता है।

कुत्ते को इंसानो का दोस्त भी कहा जाता है क्योकि ये अपने मालिक प्रति बहुत वफादार होते है।

कुत्तो की प्रजीतियो में कुत्ते अलग अलग प्रजाति में आते है।

त्ते काले, सफ़ेद, भूरे, आदि और ग्रे रंग के होते है।

कुत्तो को सबसे ज्यादा वफादार कहना गलत नहीं होगा।

निष्कर्ष:(Mera Priya prani essay in Hindi)

कुत्ते सभी जानवरो में से सबसे वफादार होते है। कुत्ते अपने मालिक के लिए अपनी जान भी न्योछावर कर देते है। इंसान को कभी भी कुत्तो को नहीं मारना चाहिए। यु तो कुत्ते वफादार होते है, लेकिन अगर कुत्तो को इंसानो के बीच न रखा जाए और शिक्षित न करा जाए तो कुत्ते भी जंगली कुत्ते का रूप ले लेते है।

अंतिम बाते:

मैंने मेरा प्रिय जानवर कुत्ता पर बहुत सरल भाषा में निबंध लिखा है। आशा करते है आपको ये निबंध पसंद आया होगा। अगर पसंद आया होगा तो इसे अपने फेसबुक या व्हाट्सप्प पर शेयर जरूर करना।

धन्यवाद

ALSO READS:

Essay on Metro Train in Hindi

 Essay on my mother (1800 words)

Essay on My School in Hindi

 Mere dadaji essay in hindi

Leave a Reply